दिग्गज गायक उदित नारायण के बेटे आदित्य नारायण मंगलवार को शादी के बंधन में बंध गए हैं। आदित्य ने सिंगर-एक्ट्रेस श्वेता अग्रवाल के साथ सात फेरे लिए। खास बात ये है की 1 दिसंबर को ही उदित नारायण ने अपना 56वां जन्मदिन भी मनाया। हाल ही में दैनिक भास्कर से ख़ास बातचीत के दौरान, उदित नारायण ने अपनी इस दुगनी सेलिब्रेशन के बारे में विस्तार से बताया।

पीएम मोदी ने पत्र लिखकर आदित्य को दी शुभकामनाएं
आदित्य की शादी के लिए, उदित नारायण ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी न्योता भेजा था। पीएम नरेंद्र मोदी शादी में शामिल तो नहीं हुए। लेकिन उनकी तरफ से उदित और उनके घरवालों को शुभकामनाएं ज़रूर मिली।

इस बारे में उदित बताते हैं, "महामारी की वजह से शादी में कई लोग शामिल नहीं हो पाए। ख़ुशी इस बात की हैं की पीएम नरेंद्र मोदी की तरफ से मुझे पत्र मिला। जिसमें उन्होंने आदित्य को उसकी नई शुरुआत के लिए शुभकामनाएं दी हैं। अमिताभ बच्चन की तरफ से भी शुभकामना का पत्र आया है। आज रक्षामंत्री राजनाथ सिंह की तरफ से भी कॉल आया था। महाराष्ट्र के गवर्नर ने भी शुभकामनाएं दी हैं। ये शुभकामनाएं मेरे लिए बहुत ही गर्व की बात है।" बातचीत के दौरान, उदित नारायण ने बताया की आदित्य की शादी मैथिलि रिवाज़ से हुई।

बेटे की शादी में दिल खोलकर नाचा हूँ
उदित नारायण ने कहा, "ऊपर वाले का कमाल देखिए, मेरे जन्मदिन पर ही उन्होंने मेरे इकलौते बेटे की शादी का मुहूर्त निकाला। हम सभी के लिए ये दुगनी सेलिब्रेशन का मौका था, जिसे हमने खूब एन्जॉय किया। बेटे की शादी में दिल खोलकर नाचा हूँ। सच कहूं आदित्य का घर बस्ता देख, मैं दिल से बहुत खुश हूँ। मेरी बहु (श्वेता) बहुत ही सुंदर लग रही थी। दोनों की जोड़ी देखकर दिल को खूब सुकून मिला।"

राधा-कृष्ण भगवान का आशीर्वाद लेकर हमने सभी रस्में पूरी की
उदित नारायण ने आगे कहा, "कोरोनावायरस महामारी को ध्यान में रखकर हमने मंदिर में शादी की रस्में करने का फैसला लिया था। इस्कॉन मंदिर में राधा-कृष्ण भगवान का आशीर्वाद लेकर हमने सभी रस्में पूरी की। तक़रीबन 150 मेहमान शामिल हुए थे। बहुत ही सिंपल तरीके से शादी हुई। मंदिर में शादी की इसीलिए खाना भी पुरा वेज था। हालांकि आज रिसेप्शन में वेज और नॉन वेज व्यंजन दोनों होंगे। दिल से तो मैं चाहता था की मेरे इकलौते बेटे की शादी बहुत ही शानदार तरीके से हो और इसीलिए मैंने आदित्य से अगले साल शादी करने की बात रखी थी। हालांकि आदित्य ने इसी साल शादी करने की बात रखी। उनका कहना था की ना जाने ये महामारी कब ख़त्म होगी। कल जब आदित्य को दूल्हे के लिबास में देखा तो लगा उसका फैसला बिलकुल सही था।"



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Pm Modi wrote letter and gave his best wishes to aditya narayan, father Udit Narayan said, "These wishes are a matter of great pride for me".


from bhaskar