Latest news

6/recent/ticker-posts

Advertisement

4 महीने बाद भी सीबीआई की चुप्पी पर उठे सवाल, फिर सुप्रीम कोर्ट पहुंचा मामला

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में जांच कर रही सीबीआई के काम के तरीकों पर सवालियां निशान लगाते हुए एक याचिका सुप्रीम कोर्ट में दायर हुई है। याचिका में इतनी लंबी जांच के बावजूद सीबीआई की चुप्पी पर सवाल उठाएं गए हैं। सुशांत 14 जून को मुंबई के बांद्रा स्थित अपने फ्लैट पर मृत पाए गए थे।

अधिवक्ता विनीत ढांडा के माध्यम से दायर की गई याचिका में शीर्ष अदालत से एजेंसी को दो महीने में जांच पूरी करने और इसके संबंध में एक रिपोर्ट पेश करने का निर्देश देने का आग्रह किया है। याचिका में कहा गया है कि करीब चार महीने पहले शीर्ष अदालत ने सीबीआई को राजपूत की मौत के मामले की जांच करने का निर्देश दिया था।

याचिका में कहा गया है, "शीर्ष अदालत ने देश की प्रमुख जांच एजेंसी पर गंभीर विश्वास व्यक्त किया और दिवंगत अभिनेता की अप्राकृतिक मौत की जांच का निर्देश दिया, क्योंकि उनकी मृत्यु ने पूरे देश को हिला दिया था और यहां तक कि विदेशों में भी उनके प्रशंसकों को राजपूत की अप्राकृतिक मौत से झटका लगा।"

सीबीआई ने समाप्त नहीं की अपनी जांच
याचिका में कहा गया है कि इस अदालत ने 19 अगस्त, 2020 को सीबीआई जांच के लिए एक आदेश पारित किया था और अब लगभग चार महीने बीतने के बावजूद सीबीआई ने अपनी जांच समाप्त नहीं है। इसमें कहा गया है कि सुशांत की मौत के मामले में उनके परिवार के सदस्यों के साथ ही उनके प्रशंसकों और शुभचिंतकों को अभी तक उनकी मौत के सटीक कारण का पता नहीं चल सका है।

जांच पूरी करने के लिए तय हो समय सीमा
याचिकाकर्ता ने दलील दी कि अदालत को इस जांच के लिए अब दो महीने की समय सीमा तय कर देनी चाहिए, ताकि समय पर निष्कर्ष निकल सके। इसके साथ ही शीर्ष अदालत से यह भी मांग की गई है कि वह सीबीआई को निर्देश जारी करे कि वह अपनी जांच के संबंध में एक रिपोर्ट प्रस्तुत करे।

याचिका में कहा गया है, "सीबीआई वर्तमान मामले में जिम्मेदारी से काम नहीं कर रही है और मामले की जांच के समापन में देरी हो रही है।"



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
 सुशांत 14 जून को मुंबई के बांद्रा स्थित अपने फ्लैट पर मृत पाए गए थे-फाइल फोटो।


from bhaskar

Post a comment

0 Comments