Latest news

6/recent/ticker-posts

Advertisement

10 साल के फिल्मी करियर में सिल्क स्मिता ने की थी 500 फिल्में, 36 साल की उम्र में पंखे से झूलती मिली थी लाश

कंट्रोवर्शियल अभिनेत्रियों में से एक सिल्क स्मिता की 2 दिसंबर को बर्थ एनिवर्सरी है। 36 साल की उम्र में सिल्क की 1996 में रहस्यमय हालातों में मौत हो गईं थीं। उनकी लाश घर में पंखे से झूलती पाई गई थी। इस तरह 17 सालों तक साउथ इंडस्ट्री पर राज करने वाली ये एक्ट्रेस एक पहेली बनकर दुनिया से चली गई। सिल्क साउथ की फिल्मों की बेहद बोल्ड एक्ट्रेस थीं। सिल्क स्मिता की कंट्रोवर्शियल लाइफ पर 2011 में 'द डर्टी पिक्चर' बनाई गई, जिसमें विद्या बालन ने लीड रोल प्ले किया।

बचपन से ही एक्ट्रेस बनने का ख्वाब देखती थीं सिल्क

सिल्क का जन्म 2 दिसंबर 1960 को आंध्र प्रदेश के एल्लुरू में एक गरीब परिवार में हुआ था। उनका असली नाम विजयलक्ष्मी वडलापति था। सिल्क का परिवार बेहद गरीब था इसलिए पढ़ाई-लिखाई नहीं हो पाई और बचपन घर के चूल्हे-चौके में ही बीता।

सिल्क को बचपन से ही फिल्में बहुत पसंद थीं, वह हमेशा से ही एक्ट्रेस बनने का ख्वाब देखती थीं। बड़े होते ही उनके हाथ पीले कर दिए गए मगर जबरदस्ती की गई शादी से सिल्क खुश नहीं थीं, वहीं ससुराल वालों ने भी उनका जीना मुश्किल कर रखा था।

ऐसे में एक दिन सिल्क सब छोड़ कर बिना किसी को बताए चेन्नई भाग गईं। वहां अपनी एक आंटी के साथ रहने लगी। यहीं साउथ फिल्म इंडस्ट्री में उन्होंने हाथ आजमाने की कोशिश की। सिल्क ने एक मेकअप गर्ल के तौर पर शुरुआत की। वह शूटिंग के दौरान हीरोइन के चेहरे पर टचअप का काम किया करती थीं।

10 साल के करियर में कीं 500 फिल्में

यहीं उनकी आंखों में फिल्मों में आने के सपने पलने शुरू हो गए। वह प्रोड्यूसर्स से दोस्ती करने लगीं। दोस्ती और उनका जज्बा रंग लाया। 1979 में मलयालम फिल्म 'इनाये थेडी' में पहली बार लोगों ने उन्हें परदे पर देखा।

स्मिता ने साउथ फिल्म इंडस्ट्री को अपने जादू से हिलाकर रख दिया था। सिल्क की बढ़ती डिमांड को देखकर हर फिल्म डिस्ट्रीब्यूटर की यह मांग होने लगी कि फिल्म में अगर सिल्क का आइटम नंबर नहीं होगा तो वह फिल्म नहीं खरीदेंगे।

ऐसे में हर निर्माता-निर्देशक सिल्क को कम से कम एक गाने में मजबूर हो गया। इसी वजह से उन्होंने अपने दस साल के फिल्मी करियर में लगभग 500 फिल्में कर डाली थीं।

ऐसे विजयलक्ष्मी बन गईं 'सिल्क स्मिता'

'वांडीचक्रम' उनके करियर की सबसे बड़ी फिल्म साबित हुई जो 1980 में रिलीज हुई थी। फिल्म में अपने किरदार सिल्क को मिली शोहरत को उन्होंने अपने साथ जोड़ते हुए अपना नाम 'सिल्क स्मिता' कर लिया। उन्होंने कमल हासन, रजनीकांत और चिरंजीवी जैसे बड़े स्टार्स के साथ काम किया था।

अकेलेपन से जूझ रही थीं स्मिता

एक तरफ तो वह स्टारडम की ऊंचाइयों पर थीं मगर अंदर ही अंदर वह अकेलापन महसूस करती थीं। उन्हें प्यार करने वाला कोई नहीं था। ऐसे में सिल्क ने नशे और शराब को अपना साथी बनाया। 23 सितंबर 1996 को अपने घर में वह रहस्यमय हालातों में मृत मिलीं थीं। उनकी मौत की खबर से हंगामा मच गया। सिल्क की मौत से कैसे हुई, इसकी पक्की जानकारी कहीं भी नहीं है। हालांकि बताया जाता है कि उन्होंने पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली थी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Silk Smitha's birth anniversary: know interesting facts about her


from bhaskar

Post a comment

0 Comments