हाथरस गैंग रेप विक्टिम की पहचान उजागर करने के लिए स्वरा भास्कर को NCW ने जारी किया नोटिस; पोस्ट को तत्काल हटाने की मांग की

राष्ट्रीय महिला आयोग ने स्वरा भास्कर और दो अन्य को हाथरस गैंगरेप पीड़िता की पहचान उजागर करने के लिए नोटिस दिया है। एनसीडब्ल्यू ने तीनों द्वारा को सोशल मीडिया से अपनी पोस्ट्स तुरंत हटाने की भी मांग की है। NCW ने कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह, बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय और स्वरा भास्कर को नोटिस जारी किए हैं।

आयोग ने मांगा स्पष्टीकरण

NCW ने एक ट्वीट में लिखा है उन्होंने स्वरा भास्कर और दो अन्य लोगों को नोटिस दिए हैं, जिन्होंने हाथरस रेप कांड की पीड़ित की पहचान का खुलासा किया था। एनसीडब्ल्यू ने तीनों से ऐसा करने के लिए स्पष्टीकरण मांगा है। पोस्ट को तत्काल हटाने का निर्देश देने के अलावा उन्हें भविष्य में ऐसे पोस्ट शेयर करने से परहेज करने कहा है।

कानूनों अनुसार, कुछ अपराधों के शिकार व्यक्ति की पहचान का खुलासा आईपीसी की धारा 228 (ए) के तहत अपराध है। अगर कोई ऐसा करते हुए पाया जाता है कि उसे दो साल तक की सजा दी जा सकती है।

सबने हटाई पोस्ट

इसके पहले शुक्रवार को मालवीय ने एक 48-सैकंड (जिसे अब हटा दिया गया है) वीडियो क्लिप को ट्वीट किया था। जहां महिला को जमीन पर पड़ा देखा जा सकता था, उसका चेहरा स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहा था। कांग्रेस नेता सिंह का ट्वीट भी अब उपलब्ध नहीं है। स्वरा भास्कर के ट्वीट ने उन्हें अन्य लोगों के साथ दिल्ली के जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन में पीड़ित की तस्वीर ले जाने वाले कुछ तख्तियों के साथ देखा, जो अब हटा दिया गया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
NCW issues notice to Swara Bhaskar for revealing identity of Hathras gang rape Victim; Demand for immediate removal of posts


from bhaskar

Comments

Popular posts from this blog

Mulan DID NOT make $250 million and the future of film releases

एनसीबी के डिप्टी डायरेक्टर केपीएस मल्होत्रा बोला- मीडिया में झूठी खबर चल रही, हम खंडन जारी कर रहे हैं

Obtaining and analysing Fitbit sleep scores