फिल्ममेकर सुरजीत बोले- सुशांत की मौत से ठीक पहले वाली रात रिया उनके घर पर थीं, सुरजीत ने ही किया था रिया के 'सॉरी बाबू' वाले बयान का खुलासा

बीजेपी नेता विवेकानंद गुप्ता के बाद फिल्ममेकर और करणी सेना के नेता सुरजीत सिंह राठौर ने भी 13 जून को सुशांत सिंह राजपूत से रिया चक्रवर्ती की मुलाकात का दावा किया है। राठौर की मानें तो सुशांत की मौत से ठीक पहले वाली रात रिया उनके साथ उनके घर पर ही थीं। हालांकि, उसी रात शायद किसी लड़ाई के बाद वे वहां से चली गई थीं।

सुरजीत का दावा- पहले भी कर चुके यह खुलासा

रिपब्लिक भारत की रिपोर्ट के मुताबिक, जब सुरजीत से पूछा गया कि वे सुशांत की मौत के तीन महीने बाद यह खुलासा क्यों कर रहे हैं? उन्होंने अब तक इस बारे में जांच अधिकारियों को क्यों नहीं बताया? तो जवाब में उन्होंने कहा कि सीबीआई ने उनसे संपर्क नहीं किया था। सुरजीत की मानें तो वे पहले भी यह खुलासा कर चुके हैं। लेकिन मीडिया ने उनके बयान को मिस कर दिया था।

पहले भी चौंकाने वाला दावा कर चुके सुरजीत

सुरजीत सिंह ने इससे पहले अगस्त में रिया की कूपर हॉस्पिटल की मॉर्चरी विजिट का खुलासा किया था। उन्होंने कहा था कि रिया उनके दोस्त सूरज सिंह के साथ वहां पहुंची थीं। सूरज ने उनसे रिया को आखिरी बार सुशांत का चेहरा दिखाने के लिए कहा था।

बकौल सुरजीत, "मैंने पुलिस वालों से बात की और रिया को लेकर मुर्दाघर के अंदर पहुंच गया। जैसे ही मैंने सुशांत के चेहरे से चादर हटाई, रिया ने उनके सीने पर हाथ रखा और कहा- 'सॉरी बाबू'। हम 5 से 7 मिनट तक अंदर रुके रहे।"

बीजेपी नेता ने क्या दावा किया था

बीजेपी के सेक्रेटरी और एडवोकेट विवेकानंद गुप्ता ने एक चश्मदीद के हवाले से दावा किया था कि सुशांत की मौत से ठीक एक दिन पहले यानी 13 जून को रिया उनसे (सुशांत से) मिली थीं।

एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि चश्मदीद के अनुसार रिया 13 जून की रात 2 से 3 बजे के आसपास सुशांत से मिली थीं। बाद में सुशांत उन्हें घर छोड़ने भी गए थे।

ऐसे में रिया का यह कहना कि उन्होंने सुशांत का घर 8 जून को छोड़ दिया था, पूरी तरह झूठ है। हालांकि, इस बात की पक्की जानकारी भी सुशांत के फ्लैट-मेट रहे सिद्धार्थ पिठानी के ही पास है, क्योंकि सुशांत की मौत से एक दिन पहले उनके घर आने वाले लोगों के बारे में वे ही जानते हैं।

सुशांत के में धारा 302 जोड़ने की तैयारी

सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की जांच कर रही सीबीआई अब इस केस में आईपीसी (मर्डर) की धारा 302 को जोड़ने पर विचार कर रही है। एम्स की टीम ने अपनी जांच रिपोर्ट सबमिट कर दी है, जिसके बाद सीबीआई केस के दूसरे चरण की जांच शुरू करने वाली है। इसके अलावा सुशांत के मैनेजर रहे सिद्धार्थ पिठानी के भी सरकारी गवाह बनने की संभावना है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
सुरजीत की मानें तो वे पहले भी यह खुलासा कर चुके हैं। लेकिन मीडिया ने उनके बयान को मिस कर दिया था।


from bhaskar

Comments

Popular posts from this blog

एनसीबी के डिप्टी डायरेक्टर केपीएस मल्होत्रा बोला- मीडिया में झूठी खबर चल रही, हम खंडन जारी कर रहे हैं

पैरेंट्स के बाद अब तमन्ना भाटिया भी कोरोना पॉजिटिव; वेबसीरीज की शूटिंग के दौरान हुआ संक्रमण, हैदराबाद के हॉस्पिटल में हैं एडमिट

'बधाई हो' फेम गजराज राव बोले- मैं किसी रोल को नहीं चुनता रोल खुद ही मुझे चुन लेते हैं, सुरेखा जी खुद इतनी सक्षम हैं कि उन्हें किसी की मदद की जरूरत नहीं