किडनी फेल होने की वजह से मिष्टी मुखर्जी का 27 साल की उम्र में निधन, कीटो डाइट लेने की वजह से बिगड़ी थी तबियत

हिंदी और बांग्ला फिल्मों की एक्ट्रेस मिष्टी मुखर्जी का किडनी फेल होने की वजह से शुक्रवार देर रात बेंगलुरु में निधन हो गया। वो सिर्फ 27 साल की थीं और किडनी की समस्या से जूझ रही थीं। बताया जा रहा है कि कीटो डाइट लेने की वजह से उनकी तबीयत बिगड़ गई थी।

इस बारे में उनके परिवार के प्रतिनिधि की ओर से जारी बयान में कहा गया, 'अभिनेत्री मिष्टी मुखर्जी जिन्होंने कई फिल्मों और म्यूजिक वीडियो में अपनी प्रतिभा का परिचय दिया है, वे अब हमारे बीच नहीं रहीं। कीटो डाइट की वजह से बेंगलुरू में उनकी किडनी फेल हो गई और शुक्रवार देर रात उन्होंने आखिरी सांस ली। एक्ट्रेस ने बहुत दर्द का सामना किया।'
'ऐसी दुखद क्षति जिसकी पूर्ति संभव नहीं। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे। वे अपने पीछे माता-पिता और भाई छोड़ गई हैं।' निधन के बाद शनिवार को उनका अंतिम संस्कार भी कर दिया गया।

जूही चावला की फिल्म में आई थीं नजर

रिपोर्ट्स के मुताबिक मिष्टी ने साल 2012 में फिल्म 'लाइफ की तो लग गई' से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। इसके बाद वे साल 2013 में आई फिल्म 'मैं कृष्णा हूं' के एक गाने में रजनीश दुग्गल के साथ नजर आई थी। इस फिल्म में जूही चावला लीड रोल में थीं। जबकि ऋतिक रोशन और कटरीना कैफ का स्पेशल अपीयरेंस था। इसके अलावा मिष्टी कुछ आइटम नंबर्स में भी नजर आई थीं। उन्होंने हिंदी के अलावा बंगाली और तेलुगू फिल्मों में भी काम किया था।

सेक्स रैकेट चलाने का भी लगा था आरोप

साल 2014 में मिष्टी पर हाईप्रोफाइल सेक्स रैकेट चलाने का आरोप लगा था। छापेमारी के दौरान उनके घर से कई सारी सीडियां और टेप्स भी बरामद हुए थे।

काश्मीरा शाह ने निधन पर शोक जताया

मिष्ठी के निधन पर एक्ट्रेस काश्मीरा शाह ने एक ट्वीट करते हुए शोक व्यक्त किया। काश्मीरा ने लिखा, 'बहुत ही जल्दी चली गई, बेहद युवा मिष्टी मुखर्जी RIP।'

क्या होती है कीटो डाइट

केटोजेनिक डाइट (कीटो डाइट) को वजन कम करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। ये उच्च वसा, मध्यम प्रोटीन, कम कार्बोहाइड्रेट वाला आहार है। जिसे कीटोन को पाते हुए वजन घटाने में मदद करने के लिए डिजाइन किया गया है। एक आदर्श कीटो डाइट में 75 प्रतिशत वसा, 20 प्रतिशत प्रोटीन और सिर्फ 5 प्रतिशत कार्बोहाइड्रेट होता है। इस डाइट के पीछे का मुख्य सिद्धांत कार्बोहाइड्रेट (जिसे हमारा शरीर ईंधन के रूप में इस्तेमाल करता है) के सभी स्रोतों को खत्म करना और उसकी जगह पर वसा को ऊर्जा के स्रोत के रूप में उपयोग करना होता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
बताया जा रहा है कि कीटो डाइट लेने की वजह से मिष्टी मुखर्जी की तबीयत बिगड़ी थी।


from bhaskar

Comments

Popular posts from this blog

एनसीबी के डिप्टी डायरेक्टर केपीएस मल्होत्रा बोला- मीडिया में झूठी खबर चल रही, हम खंडन जारी कर रहे हैं

पैरेंट्स के बाद अब तमन्ना भाटिया भी कोरोना पॉजिटिव; वेबसीरीज की शूटिंग के दौरान हुआ संक्रमण, हैदराबाद के हॉस्पिटल में हैं एडमिट

'बधाई हो' फेम गजराज राव बोले- मैं किसी रोल को नहीं चुनता रोल खुद ही मुझे चुन लेते हैं, सुरेखा जी खुद इतनी सक्षम हैं कि उन्हें किसी की मदद की जरूरत नहीं