अनुराग कश्यप का खुलासा- सुशांत ने मेरी कई फिल्में ठुकराईं, क्योंकि वे किसी आउटसाइडर की जगह यशराज और धर्मा के साथ काम करना चाहते थे

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से ही हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में नेपोटिज्म और इनसाइडर-आउटसाइडर को लेकर बहस छिड़ी हुई है। इसी बीच फिल्ममेकर अनुराग कश्यप ने खुलासा करते हुए बताया है कि उन्होंने सुशांत को कुछ फिल्में ऑफर की थीं, लेकिन उन्होंने एक आउटसाइडर की जगह यशराज और धर्मा प्रोडक्शन जैसे बड़े बैनर्स से जुड़ने में रुचि दिखाई।

न्यूज चैनल एनडीटीवी को दिए इंटरव्यू में सुशांत से हुई पहली मुलाकात के बारे में बताते हुए अनुराग ने कहा, 'मैं 'गैंग्स ऑफ वासेपुर' के लिए कास्ट कर रहा था। तब मैं पहली बार सुशांत से मिला था। हमारी कास्टिंग खत्म हो चुकी थी। मुकेश छाबड़ा (कास्टिंग डायरेक्टर) मेरे ऑफिस से ही काम करते थे। सुशांत आया को हमने कहा तू बिहार का लड़का है, पहले मिलता तो मैं तुझे फिल्म में काम देता।

'काय पो चे' के लिए अनुराग ने सुझाया था नाम

अनुराग के मुताबिक उन दिनों अभिषेक कपूर 'काय-पो-चे' के लिए कास्टिंग कर रहे थे और वो उस रोल के लिए खासतौर पर किसी टेलीविजन स्टार को खोज रहे थे। मैंने उन्हें सुशांत के बारे में बताया और कहा कि तुम इस बारे में एकता कपूर से बात करो, वो तुम्हारी कजिन भी है, वो तुम्हें बताएगी कि सुशांत कैसा है। आगे चलकर यही सुशांत की डेब्यू फिल्म बनी। फिर उन्हें पीके में भी रोल मिल गया।

सुशांत को लेकर शुरू हुई थी'हंसी तो फंसी'

इसके बाद कश्यप ने साल 2014 में अपने को-प्रोडक्शन में बनी फिल्म 'हंसी तो फंसी' का जिक्र छेड़ते हुए कहा, हम फैंटम फिल्म्स की शुरुआत कर रहे थे, उस वक्त हमने 'हंसी तो फंसी' सुशांत के साथ शुरू की थी। इसके बाद हम परिणीति (चोपड़ा) के पास गए... उस वक्त वो यशराज फिल्म्स (YRF) के साथ काम कर रही थीं। इसी बीच सुशांत भी YRF के पास गया और उनसे बात की, उन्होंने उसे बुलाया और डील देते हुए कहा कि आप 'शुद्ध देसी रोमांस' करो।

'शुद्ध देसी रोमांस' के लिए'हंसी तो फंसी' को छोड़ा

आगे अनुराग ने बताया, 'यशराज फिल्म्स ने उसे बुलाया और कहा, हम आपको एक डील देंगे। आप 'शुद्ध देसी रोमांस' करो। सुशांत जो मुकेश के साथ मेरे ऑफिस में बैठता था, हम सब साथ बैठते थे, उसने YRF के साथ फिल्म साइन कर ली और एक आउटसाइडर की फिल्म 'हंसी तो फंसी' को छोड़ दिया, क्योंकि उसको प्रमाणिकता YRF से चाहिए थी। ये हर किसी एक्टर के साथ है, इसलिए मैं कोई शिकायत नहीं कर रहा हूं। इसके बाद हमने वो फिल्म सिद्धार्थ मल्होत्रा के साथ बनाई।'

स्क्रिप्ट पढ़ने के बाद भी कोई जवाब नहीं दिया

उन्होंने आगे कहा, 'इसके कुछ साल बाद सुशांत फिर आने लगा।साल 2016 में एमएस धोनी की रिलीज से पहले मैंने एक स्क्रिप्ट लिखी थी। मुकेश एकबार फिर उसके पास गया और उससे कहा कि अनुराग ने एक स्क्रिप्ट लिखी है और वो एक ऐसे स्टार एक्टर को खोज रहा है, जो यूपी से बाहर का हो। सुशांत ने फिल्म की स्क्रिप्ट सुनी, इसके बाद धोनी रिलीज हुई और फिल्म सुपरहिट हो गई। इसके बाद कभी सुशांत ने पलटकर मुझे फोन नहीं किया। मैं निराश नहीं हुआ, मैं आगे बढ़ गया और फिर मैंने 'मुक्काबाज' बनाई।'

हर आउटसाइडर बड़े बैनर से जुड़ना चाहता है

अनुराग ने कहा, 'मुझे इसकी आदत पड़ चुकी है। क्योंकि जब भी कोई बाहरी इंडस्ट्री में आता है तो वो YRF या धर्मा प्रोडक्शन्स या भंसाली जैसे बड़े बैनर्स के साथ काम करते हुए पहचान बनाना चाहता है। सुशांत भी उन्हीं में से एक था। आप उस तरह का वेलिडेशन चाहते हो, और इसके लिए कोई आपको दोष नहीं दे रहा। ये पसंद आपकी है तो आपको ही इससे निपटना भी होगा। लड़का बहुत प्रतिभाशाली था, लेकिन उस वक्त उसने मेरी फिल्म को छोड़कर 'ड्राइव' को चुना था, क्योंकि वो धर्मा प्रोडक्शन्स के साथ काम करने के लिए मरा जा रहा था।'

बता दें कि सुशांत ने 14 जून को मुंबई के बांद्रा स्थित अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या की थी। मुकेश छाबड़ा के डायरेक्शन में बनी उनकी आखिरी फिल्म 'दिल बेचारा' का प्रीमियर आज (शुक्रवार, 24 जुलाई) शाम 7.30 बजे से ओटीटी प्लेटफॉर्म डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर होगा।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अनुराग कश्यप ने बताया कि जब वे सुशांत से पहली बार मिले थे तो वे उन्हें 'गैंग्स ऑफ वासेपुर' में लेना चाहते थे, लेकिन तब तक उनकी कास्टिंग पूरी हो चुकी थी।


from bhaskar

Comments

Popular posts from this blog

Stars Unite for Table Reading of Fast Times At Ridgemont High

Chicken vs. cow

Money Stuff: It’s Not All Bad for Banks