कश्मीरी पंडित सरपंच की हत्या पर भड़के अनुपम खेर, बोले- छाती पीट-पीटकर रोने वाले बुद्धिजीवी अब क्यों चुप हैं?

कश्मीर में कश्मीरी पंडित सरपंच की हत्या से अभिनेता अनुपम खेर काफी दुखी हैं और उन्होंने इसे लेकर अपनी नाराजगी जताई है। मंगलवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर करते हुए उन्होंने कहा कि वहां फिर से नब्बे का दशक दोहराया जा रहा है। साथ ही उन्होंने कहा कि इस घटना पर उन सभी बुद्धिजीवीलोगों की चुप्पी हैरान करने वाली है, जो कश्मीर में आतंकियोंकी मौत पर छाती पीटते हैं और कहते हैं कि देखो अन्याय हो गया।

अपना वीडियो शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, 'कल अनंतनाग में हुई इकलौते कश्मीरी पंडित सरपंच अजय पंडिता की निर्मम हत्या से बहुत दुखी और गुस्सा हूं। उनके परिवार के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना। ऐसे में संदिग्धों ने एक स्पष्ट चुप्पी साध रखी है, अन्यथा ये छाती पीट-पीटकर आंसू बहाते हैं।#JusticeForAjayPandita'

कश्मीर में नब्बे का दशक दोहराया जा रहा

वीडियो में अनुपम ने कहा, 'कल दिनदहाड़े कश्मीर के अनंतनाग में एक अकेला कश्मीरी पंडित अकेला इसलिए क्योंकि पूरे कश्मीर में कोई और कश्मीरी पंडित पंडित सरपंच नहीं था। उसको हत्यारों ने, आतंकवादियों ने सड़क पर गोली मार दी। ये फिर दोहराया जा रहा है, वही कांड जो 80 के दशक में हुआ था, जिसको फाइनल अंजाम दिया गया था, 19 जनवरी 1990 को। उसके मां-बाप को बिलखता देखकर उनकी तकलीफ देखकर बहुत दुख हुआ, बहुत रोष भी हुआ।'

छाती पीटने वालों को कोई फर्क नहीं पड़ा

आगे उन्होंने कहा, 'अब ये मत बोलना कि कश्मीर में दिनदहाड़े बहुत सारे लोग मारे जा रहे हैं। कश्मीर में दिनदहाड़े बहुत सारे लोग मारकर या डराकर या उनकी महिलाओं को रेप करके पांच सौ हजार यानी पांच लाख कश्मीरी पंडितों को निकाल दिया गया था और वो सिलसिला अभी भी जारी और एक भी आवाज नहीं आ रही उन सभी लोगों से जो छाती पीट-पीटकर दुहाएं देते हैं और बोलते हैं कि अरे देखो मार दिया गया, देखो अन्याय हो गया। किसी का कोई ट्वीट नहीं, किसी को कोई परेशानी नहीं।'

आतंकियों को बचाने की कोशिश मत कीजिए

आगे अनुपम बोले, 'कश्मीर में जो भी हो चाहे वो मुस्लिम हो, चाहे वो पंडित हो, जो भी अभी भी टेररिज्म कर रहा है, उसको बचाना नहीं है, जब हमारी सिक्युरिटी फोर्सेस उसे पकड़ने की कोशिश करती है, तो उसको बचाने की कोशिश मत कीजिए। क्योंकि कल को आपके भी परिवार के किसी सदस्य को ऐसे दिनदहाड़े गोली मार दी जाएगी। मेरी भावपूर्ण श्रद्धांजलि उनके परिवार वालों के लिए, उनके घरवालों के लिए उनके बच्चों के लिए। ओम शांति।'

आतंकियों ने पीछे से गोली मारकर की हत्या

इससे पहले सोमवार की शाम को जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में आतंकियों ने कश्मीरी पंडित सरपंच अजय पंडिता की गोली मारकर हत्या कर दी थी। पुलिस के मुताबिक ये वारदात शाम करीब छह बजे हुई थी, जब आतंकियों ने जिले के लारकीपुरा के लकबावन इलाके के सरपंच और कांग्रेस सदस्य अजय पंडित को पीछे से सिर में गोली मारी थी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अनुपम खेर अक्सर सोशल मीडिया के जरिए कश्मीर पंडितों की हालत और उनकी तकलीफों को लेकर आवाज उठाते रहते हैं। (फोटो/वीडियो अनुपम के सोशल मीडिया अकाउंट से साभार)


from bhaskar

Comments

Popular posts from this blog

अब शूटिंग सेट पर जा सकेंगे 65 साल से अधिक उम्र के टीवी और फिल्म एक्टर्स, बॉम्बे हाई कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार द्वारा लगाए प्रतिबंध को हटाया

What type of wireless headphones are best for movies watching?

Chicken vs. cow