पारिवारिक मुद्दों को अपनी फिल्मों में बहुत ही गुदगुदाते अंदाज में दिखाते थे बासु चटर्जी

फिल्ममेकर बासु चटर्जी का 90 साल की उम्र में गुरुवार को निधन हो गया। मिडिल क्लास फैमिली की गुदगुदाती और हल्के से छू जाने वाली रोमांटिक कॉमेडी फिल्मों ने बासु दा को सबसे अलग मुकाम हासिल कराया। आइए नजर डालते हैं उनकी खास फिल्मों पर...

1. छोटी सी बात (1975)

यह फिल्म सबसे बेहतरीन रोमांटिक कॉमेडी फिल्मों में शुमार की जाती है। इसमें अमोल पालेकर और विद्या सिन्हा ने मुख्य भूमिका निभाई थी। फिल्म में अशोक कुमार सपोर्टिंग रोल में थे। फिल्म के निर्देशन के साथ-साथ इसकी कहानी बासु चटर्जी ने लिखी थी जिसके लिए उन्हें बेस्ट स्टोरी का अवॉर्ड भी मिला था।फिल्म में अमोल पालेकर ने शर्मीले युवक की भूमिका अदा की थी जो अपने दिल की बात एक लड़की से कहने की हिम्मत नहीं जुटा पाता तो एक रिटायर्ड आर्मी ऑफिसर से मदद लेता है जो उसे लड़की का दिल जीतने के टिप्स देते हैं और उसमें कॉन्फिडेंस जगाते हैं।

2.हमारी बहू अलका (1982)

इस फिल्म में राकेश रोशन, उत्पल दत्त और बिंदिया गोस्वामी ने मुख्य भूमिका निभाई थी। इस रोमांटिक कॉमेडी फिल्म में एक यंग कपल की कहानी दिखाई गई थी जो कि शादी के बाद थोड़ी प्राइवेसी चाहता है लेकिन इसके लिए उन्हें कई पापड़ बेलने पड़ते हैं।

3.बातों बातों में (1979)

यहएक रोमांटिक कॉमेडी फिल्म थी। इस फिल्म में अमोल पालेकर और टीना मुनीम ने मुख्य भूमिका निभाई थी। फिल्म में दो प्रेमियों की रोजमर्रा की परेशानियों, कमिटमेंट को लेकर डर और पेरेंट्स के हस्तक्षेप जैसे मुद्दों को बड़े ही साधारण लेकिन रोचक तरीके से पेश किया गया था। फिल्म के दो गाने सुनिए-कहिए-कहिए-सुनिए... और न बोले तुम न मैंने कुछ कहा...आज भी बेहद पसंद किए जाते हैं।

4. खट्टा-मीठा(1978)

इस फिल्म की कहानी के साथ-साथ निर्देशन भी बसु चटर्जी ने किया था। अशोक कुमार, राकेश रोशन, बिन्दिया गोस्वामी, राजू श्रेष्ठ, देवेन वर्मा, प्रीति गाँगुली, रंजीत चौधरी,विमल साहू, पर्ल पदम्सी,प्रदीप कुमार, केष्टो मुखर्जी, डेविड अब्राहम, रूबी मेयर ने मुख्य भूमिका निभाई थी।

इसमें अशोक कुमार ने पारसी पुरुष की भूमिका निभाई थी जो कि पत्नी के निधन के बाद अपने चार बेटों की जिम्मेदारी अकेले निभाते हैं। वहीं नर्गिस सेठना भी अपने पति के निधन के बाद अपने तीन बेटों और एक बेटी की जिम्मेदारी में व्यस्त रहती हैं। उम्र के इस पड़ाव पर दोनों एक-दूसरे से शादी का फैसला लेते हैं तो क्या इनके बच्चे एक-दूसरे के साथ रह पाते हैं, यही इस फिल्म में बड़े ही रोचक तरीके से दिखाया गया है।

5. शौकीन (1981)

तीन अमीर दोस्तों की इस कहानी में अशोक कुमार, उत्पल दत्त और ए.के. हंगल ने मुख्य भूमिका निभाई थी। तीनों ही रंगीन जिंदगी का आनंद लेने के लिए गोवा पहुंचतेहैं जहां उनकी मुलाकात रति अग्निहोत्री से होती है। तीनों उसपर फ़िदा हो जाते हैं और इस दौरान कई स्थितियां बन जाती हैं जो हंसने पर मजबूर कर देती हैं।

6. चमेली की शादी (1986)

फिल्म 'चमेली की शादी' कहानी है एक शौकिया पहलवान चरणदास (अनिल कपूर) और एक कोयला गोदाम मालिक (पंकज कपूर) की बेटी चमेली (अमृता सिंह) की। दोनों एक-दूसरे के प्यार में पड़ जाते हैं। हालांकि, जब दोनों के परिवारों को इसके बारे में पता चलता है, तो वे उनके रिश्ते का विरोध करते हैं और इस दौरान देखने को मिलती है जबरदस्त कॉमेडी।




Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
best films of basu chatterjee who died in the age of 90


from bhaskar

Comments

Popular posts from this blog

क्या आप अचानक मोटी हो गई हैं? जानें मोटापे का इमोशनल कनेक्शन (Are You Emotionally Overweight? Here Are 10 Easy Ways To Lose Weight Naturally)

An Awesome List of the Most Iconic Television Melodramas of All-Time