इंडस्ट्री में एक आउटसाइडर होने का एक अलग ही स्ट्रेस हैं और हर कोई इससे गुजरता हैं- अदा शर्मा

अभिनेत्री अदा शर्मा ने हाल ही में एक एड शूट किया है। लॉकडाउन खुलने के बाद अदा पहली अदाकारा हैं जिन्होंने किसी ब्रांड के लिए शूट किया। दैनिक भास्कर से बातचीत के दौरान अभिनेत्री ने कोरोना महामारी के बीच शूट करने का अनुभव साझा किया। बातों ही बातों में उन्होंने अपने कुछ प्रोफेशनल और पर्सनल लाइफ से जुडी बातें भी शेयर की।

सेट पर एम्बुलेंस, डॉक्टर देखकर काफी अजीब लग रहा था:

ये एड चेन्नई में शूट में होने वाला था लेकिन मैं इस महामारी के माहौल में ट्रेवल नहीं करना चाहती थी इसीलिए मैंने टीम को मुंबई में ही शूट करने के लिए रिक्वेस्ट की। सेट पर एम्बुलेंस, डॉक्टर देखकर काफी अजीब लग रहा था। सभी लोग मास्क और PPE किट में थे। आमतौर पर मैं अपने हर शॉट के बाद अपने डायरेक्टर को देखती हूं। उनके हावभाव से पता चलता हैं की शॉट कितना शानदार रहा। हालांकि अब ऐसा नहीं हो पा रहा हैं। डायरेक्टर भी मास्क लगाए बैठे हैं (हँसते हुए)।

मेरे कई प्रोजेक्ट इस लॉकडाउन की वजह से अटके हैं:

लॉकडाउन से पहले मैंने एक वेब सीरीज साइन की थी 'द हॉलिडे' सीजन 2 जिसके लिए मुझे मेक्सिको जाना था। जाहिर हैं वो घर बैठे तो शूट नहीं कर सकते हैं। माहौल को देखकर लगता नहीं की शूट जल्दी शुरू कर पाएंगे। मेरे कई प्रोजेक्ट इस लॉकडाउन की वजह से अटके हैं जिनमे 'कमांडो 4' भी शामिल हैं। जिस तरह से सिचुएशन पूरी तरह से अस्थिर हैं, उसी तरह से फिलहाल मैं भी अपने करियर को लेकर अस्थिर हूं।

इंडस्ट्री में एक आउटसाइडर होने का एक अलग ही स्ट्रेस हैं:

कई एक्टर्स का मानना हैं की इस लॉकडाउन की वजह से उन्हें मेन्टल स्ट्रेस हुआ लेकिन मैं अपने आप को खुशनसीब मानती हूं कि मुझे ऐसी सिचुएशन को हैंडल करना आता हैं। जिस दिन मैंने एक्टर बनने का निर्णय लिया था तभी से मैंने सोच लिया था कि मेरा करियर अस्थिर रहने वाला हैं। मैं जानती थी कि मैं इस इंडस्ट्री में आउटसाइडर हूं और मुझे कई चुनौतियों का सामना करना होगा। हर सिचुएशन में खुश रखना सीख लिया है।

सुशांत सिंह राजपूत की मौत हम आउटसाइडर के लिए सबसे बड़ा झटका था। वो बहुत ही टैलेंटेड थे, हम सबके लिए प्रेरणा थे। मैं उनकी मौत को अवसर नहीं बनाना चाहती हूं अपने स्ट्रगल की कहानी बताकर। हां, लेकिन स्ट्रगल होता जरूर हैं। इंडस्ट्री में एक आउटसाइडर होने का एक अलग ही स्ट्रेस हैं और हर कोई इससे गुजरता हैं। इस स्ट्रगल से बस मैंने हर पल पॉजिटिव तरीके से जीने की ठान ली है।

मैं रियलिटी शो के लिए कम्फर्टेबल नहीं हूं:

मैं बहुत ही प्राइवेट इंसान हूं और यही वजह हैं कि मैंने अब तक कोई भी रियलिटी शो के लिए हामी नहीं भरी। रियलिटी शोज में कहीं-न-कहीं आपकी निजी जिन्दगी लोगों तक पहुंचती हैं जिसमें मैं कम्फर्टेबल नहीं हूं। साथ ही एक अलग तरीके का प्रेशर भी होता हैं, जिसके लिए मैं तैयार नहीं हूं। हां, मुझे रियलिटी शोज देखना काफी पसंद हैं, खास तौर पर डांस बेस्ड रियलिटी शो।

अगर एक्टर नहीं होती तो सर्कस में काम करती:

अगर एक्टर नहीं होती तो सर्कस में काम करती। मुझे जानवरों से बहुत प्यार हैं तो बचपन में जब भी उन्हें देखती तो ऐसा लगता की मैं सर्कस में उनका ख्याल रखती। हालांकि वो ख्वाहिश मेरी अधूरी ही रह गई (हँसते हुए।)



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Being an outsider in the industry has a different stress and everyone goes through it - Ada Sharma


from bhaskar

Comments

Popular posts from this blog

क्या आप अचानक मोटी हो गई हैं? जानें मोटापे का इमोशनल कनेक्शन (Are You Emotionally Overweight? Here Are 10 Easy Ways To Lose Weight Naturally)

An Awesome List of the Most Iconic Television Melodramas of All-Time